• NainitalTimes

सलमान खुर्शीद आगजनी मामला... जमानत पर रिहा आरोपितों ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर उठाए सवाल...

पूर्व मंडी समिति अध्यक्ष, रामगढ़ मंडल अध्यक्ष व विधायक राम सिंह कैड़ा ने.......


नैनीताल : पूर्व कानून मंत्री व कांग्रेस नेता तथा वरिष्ठ अधिवक्ता सलमान खुर्शीद के रामगढ़ स्थित घर पर आगजनी मामले में जमानत पर रिहा हुए आरोपी चंदन लोधियाल, उमेश मेहता, राजकुमार मेहता व कृष्णा बिष्ट ने खुद को निर्दोष बताते हुए कहा है कि मुख्य आरोपी अभी भी बाहर घूम रहे है।


मंगलवार को पत्रकारों से प्रेसवार्ता को करते हुए चंदन लोधियाल व उमेश मेहता ने बताया कि वे निर्दोष है जबकि मुख्य आरोपी बाहर घूम रहे है। जबकि भाजपा द्वारा खासकर पूर्व मंडी समिति अध्यक्ष मनोज साह रामगढ़ मंडल अध्यक्ष कुंदन चिलवाल व विधायक राम सिंह कैड़ा द्वारा उनको अराजक तत्व बताते हुए हम लोगो के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है।


चंदन लोधियाल ने बताया कि वे लोग धरना प्रदर्शन में मौजूद थे जबकि घटनास्थल पर गए भी नही थे उंन्होने कहा कि केयर टेकर द्वारा आगजनी के दौरान जिनकी शिनाख्त की गई थी उनकी गिरफ्तारी ही नही हुई है पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवालिया निशान उठाते हुए उन्होंने कहा कि उनको बात करने के लिए बुलाया गया था और जेल भेज दिया गया।


उंन्होने बताया कि उन लोगो को न्यायालय पर पूरा भरोसा है लेकिन भाजपा नेताओं द्वारा उनके खिलाफ की गई गलत बयानबाजी से उन लोगो को लोग अराजक तत्व समझने लगे है जिससे उनको व उनके परिजनों को गहरा आघात पहुँचा है।


बता दे कि हाईकोर्ट ने कांग्रेसी नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद के नैनीताल जिले के प्यूड़ा स्थित आवास में आगजनी व गोलीबारी के आरोपियों को जमानत पर रिहा करने के आदेश दिए हैं। पुलिस मामले में आरोपियों के खिलाफ कोई भी ठोस सबूत पेश नहीं कर पाई। आरोपीयों ने अपनी जमानत को लेकर याचिका दायर की थी। सुनवाई न्यायमूर्ति आरसी खुल्बे की एकलपीठ में हुई। मामले के अनुसार 15 नवम्बर 2021 को सलमान खुर्शीद की पुस्तक के विरोध में कुछ लोगों द्वारा उनके प्यूड़ा स्थित आवास में आगजनी, तोड़फोड़ व गोलीबारी की गई थी।



हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें
ADVERTISMENT




180 views0 comments