• NainitalTimes

दूरसंचार टॉवरों से रेडिएशन का कोई खतरा नही


- भारत दूरसंचार विभाग की कार्यशाला में दूरसंचार से सम्बंधित दी गई अनेक जानकारी।


नैनीताल : दूर संचार टावरों से रेडिएआन का कोई खतरा नही है। बशर्त ये है कि टॉवर मानकों के अनुसार स्थापित किया गया हो। रिहायशी क्षेत्र के लोग अपने आसपास का रेडियसन भी माप सकते हैं। रेडिएशन से स्वास्थ्य पर होने प्रभाव को लेकर गलत अफवाहें अक्सर सुनी जाती रही हैं, जो भ्रामक हैं।

भारत सरकार के दूरसंचार विभाग ने विद्युत चुम्बकीय विकिरण जागरूकता व साइबर धोखाधड़ी और पीएम वाणी (-प्रधानमंत्री वाईफाई एकसेस नेटवर्क इंटरफ़ेस) को लेकर कार्यशाला गुरुवार को होटल विक्रम विंटेज में आयोजित की गई।

संचार मंत्रालय के डीडीजी संजीव अग्रवाल ने कहा कि दूरसंचार भारत की अर्थव्यवस्था, शिक्षा, समाचार, मनोरंजन, सामाजिक नेटवर्किंग, दोस्तों और परिवारों को जोड़ने का काम कर रहा है। भारत सरकार की पहल है कि पूरे देश बेहतर नेटवर्क सुविधा प्रदान की जाए। जिसके लिए टॉवरों की संख्या बढ़ाई जाएगी। पिछले तीन वर्षों में टॉवरों की संख्या 4785 से बढ़ाकर 8267 कर दी गयी है। समाज मे टॉवर व 5जी नेटवर्क को लेकर गलत सूचनाएं फैलायी जा रही है। जिसमें विश्व स्वास्थ्य संगठन और अन्य वैज्ञानिकों की शोध में पाया है कि रेडिएशन से किसी भी जीव को कोई खतरा नही है। इसलिए रिहायशी इलाकों में टॉवर लगाने में कोई बुराई नहीं है।

वही दूरसंचार विभाग के एडीजी सिद्दार्थ सभरवाल ने कहा कि देश मे बेहतर नेटवर्क सुविधा के साथ साइबर क्राइम भी बढ़ रहा है जिसके लिए सभी को जागरूकता रखने की ज़रूरत है। सरकार ने साइबर से जुड़ी घटनाओं को रोकने के लिए पर्याप्त रूप से मशीनरी व तंत्र तैयार कर रही है। उन्होंने कहा कि अपने ईमेल, व्हाट्सएप व अन्य किसी माध्यम से ओटीपी या अन्य व्यक्गित जानकारी किसी के साथ साझा न करे। कोई भी नकली असत्यापित एप्लिकेशन डाउनलोड करने से भी बचे। अगर कोई साइबर धोखाधड़ी व साइबर अपराध में फंस जाता है तो राष्ट्रीय साइबर अपराध रिपोर्टिग पोर्टल में शिकायत दर्ज कर सकते हैं। भारत सरकार दूरसंचार विभाग के डीडीजी देबकुमार चक्रबर्ती ने कहा कि पीएम वाणी प्रधानमंत्री वाईफाई एकसेस नेटवर्क इंटरफ़ेस से दिसम्बर 2021 तक 20 लाख डेटा केंद्र खोले जा रहे हैं। जिससे सभी को वाईफाई की मुफ्त सुविधा प्रदान की जाएगी। कार्यशाला में रेडिएशन डिरेक्टर विवेक अस्थाना, डीडीजी एके श्रीवास्तव, अरुण कुमार वर्मा, दीपक के आर, विवेक, आकाश दुबे, महेश भरतवाज, सूरज जोशी, ललित बोरा व जितेन्द्र सिंह आदि मौजूद थे।

17 views0 comments