• NainitalTimes

सरकार की फाइनल रिपोर्ट के आधार पर महेश नेगी की याचिका हाईकोर्ट से खारिज....


पीड़ित की सीबीआई जांच वाली याचिका पर महेश नेगी और सरकार को नोटिस..
4 हफ्ते में मांगा कोर्ट ने जवाब 13 जनवरी को सुनवाई...


नैनीताल - यौन उत्पीड़न में फंसे बीजेपी विधायक महेश नेगी को बड़ी राहत मिली है। सरकार ने कोर्ट ने कहा कि इस मामले में फाइनल रिपोर्ट दाखिल की है जिसमें महेश नेगी के खिलाफ 576 और 506 के कोई आरोप नहीं बनते हैं, इस रिपोर्ट को आधार बनाते हुए कोर्ट ने महेश नेगी के डीएनए टेस्ट पर रोक वाली याचिका को खारिज कर दिया है। वही इसी मामले में पीड़िता की ओर से हाई कोर्ट में दाखिल सीबीआई जांच वाली याचिका पर हाई कोर्ट ने सरकार और महेश नेगी को नोटिस जारी किया है और 4 हफ़्तों में जवाब दाखिल करने को कहा है। कोर्ट ने पीड़िता के वकील को कहा है कि महेश नेगी को 2 दिन में याचिका की कॉपी सर्व करें। आपको बतादें की महेश नेगी पर महिला प्रीति बिष्ट ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था जिस पर 5 सितंबर 2020 को नेहरू कालोनी देहरादून में धमकी और रेप उत्पीड़न की शिकायत दर्ज की थी। जिसके बाद हाई कोर्ट ने गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी तो ट्रायल कोर्ट ने 18 दिसम्बर 2020 को महेश नेगी को डीएनए टेस्ट के लिए सैम्पल देने का आदेश दिया,इस पर भी हाई कोर्ट ने रोक लगा दी लेकिन अब पुलिस ने फाइनल रिपोर्ट देते हुए कहा है कि 376 और 506 के कोई साक्ष्य महेश नेगी पर नहीं मिले हैं।

44 views0 comments