• NainitalTimes

दूघ के नाम पर क्या जहर पी गये लोग..उत्तराखण्ड के किसानों के बजाए यूपी की डेयरी से आंचल ने भरा पेट

हाई कोर्ट पहुंचा मामला तो खुली दूध की पोल..

नैनीताल : उत्तराखंड हाई कोर्ट ने नैनीताल दूध संघ में फर्जीवाड़े और घटिया दूध की सप्लाई के खिलाफ दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने वर्तमान सचिव चेयरमैन को नोटिस जारी कर 4 सप्ताह में जवाब पेश करने को कहा है। मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट ने 4 सप्ताह बाद की तिथि नियत की है।

आपको बता दें कि लाल कुआं निवासी नरेंद्र सिंह कार्की ने उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर कर कहा कि नैनीताल दुग्ध संघ में चरम सीमा पर भ्रष्टाचार कर लोगों की सेहत से खिलवाड़ किया जा रहा है जिसमें प्रदेशवासियों को अधोमानक दूध की सप्लाई की जा रही है। जिसके पीने से लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है जिसमें वर्ष 2020 के अंतिम 3 माह में लगभग 48 टैंकर करीब 5 हजार लीटर दूध जांच के दौरान सभी मांगों में फेल होने के बावजूद प्रदेश भर में दूध की सप्लाई की गई। याचिकाकर्ता का यह भी कहना है कि दुग्ध उत्पादन संघ के चेयरमैन फर्जी तरीके से मेंबरशिप अर्जित कर चेयरमैन बने हुए है। इन्होंने कभी भी संघ के लिए दूध की सप्लाई नहीं की है। चेयरमैन पर यह भी आरोप है कि दुग्ध सप्लाई के लिए जिन टैंकरों का उपयोग किया जा रहा है उनका ठेका अपने भाई के नाम से लिया हुआ है।


हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

242 views0 comments

Recent Posts

See All

घर के अंदर फंदे से लटकी मिली महिला

नैनीताल : आज सुबह स्टाफ हाउस में 35 वर्षीय महिला का बाथरूम के अंदर फाँसी से लटका शव मिलने से हड़कम्प मच गया। जानकारी के अनुसार नगर के मल्लीताल स्टाफ हाउस क्षेत्र में करीब 35 वर्षीय विवाहिता बबली पत्नी