• NainitalTimes

पशुओं का इलाज कर रहे हैं पशु धन प्रसार अधिकारी.....



उत्तराखंड हाई कोर्ट ने रजिस्टर्ड डॉक्टर को दिए ये निर्देश..

नैनीताल के अनुपम कबड़वाल की याचिका पर हाई कोर्ट ने सुनवाई..


नैनीताल - राज्य में इलाज के नाम पर हो रहीं पशुओं से क्रूरता पर उत्तराखंड हाई कोर्ट ने संज्ञान लिया है। कोर्ट ने सरकार समेत इंडियन वैटनरी काउंसिल व राज्य वैटनरी काउंसिल के साथ सीईओ पशु कल्याण बोर्ड को नोटिस जारी किए है और 6 हफ़्तों में जवाब दाखिल करने का आदेश दिया है,,कोर्ट ने कहा है कि इस दौरान कोई भी जानवरों का इलाज रजिस्टर्ड वैटनरी डॉक्टर द्वारा ही किया जाएगा। आपको बतादें की नैनीताल के अनुपम कबड़वाल ने जनहित याचिका दाखिल कर सरकार के 21 जनवरी 2008 के नोटिफिकेशन को चुनौती दी है जिसमें पशु धन प्रसार अधिकारी को पशुओं के माइनर इलाज के साथ मेजर इलाज सौंप दिया था। याचिका में कहा गया है कि उत्तराखंड में पशुपालकों के जानवरों का इलाज अनक्वालिफाइड डॉक्टरों से कराया जा रहा है जो पशुओं के साथ क्रूरता है साथ ही ट्रीटमेंट में नाम पर उनके खिलवाड़ है। याचिका में कहा गया है कि इंडियन वैटनरी काउंसिल 1784 के सेक्सन 30B जो कहता है कि इलाज रजिस्टर्ड डॉक्टर से ही कराया जाए,,,याचिका में सरकार के नोटिफिकेशन को रद्द करने की मांग की है।

149 views0 comments